Tough Location Allowance under Compensatory Allowances For Govt. Employees

Tough Location Allowance भत्ते के अनुदान के लिए संशोधित वेतन संरचना में मूल भुगतान का मतलब होगा कि पे मैट्रिक्स में निर्धारित स्तर पर भुगतान किया जाएगा, लेकिन इसमें किसी भी अन्य प्रकार का वेतन शामिल नहीं है, जैसे कि विशेष वेतन, आदि। इन भत्तों की दर में स्वचालित रूप से 25 प्रतिशत की वृद्धि होगी। जब स्पेशल (ड्यूटी) अलाउंस, आइलैंड स्पेशल (ड्यूटी) भत्ता और हार्ड एरिया अलाउंस को छोड़कर डीए 50 प्रतिशत बढ़ जाता है।

Tough Location Allowance

Special Compensatory Allowances जो Tough Location Allowance में रखे गए हैं, निम्नानुसार स्वीकार्य हैं:

  • जब भी DA 50% बढ़ेगा ये दरें 25% तक बढ़ जाएंगी
  • संशोधित वेतन संरचना में ‘पे लेवल’ शब्द का अर्थ है पे मैट्रिक्स में स्तर।
  • उन कर्मचारियों के संबंध में जो अपने पूर्व-संशोधित वेतन संरचना / वेतनमान में जारी रखने का विकल्प चुनते हैं, 01.01.2016 को पद के वेतन मैट्रिक्स में संबंधित स्तर जैसा कि सीसीएस (संशोधित वेतन) नियम, 2015 में दर्शाया गया है, भत्ता निर्धारित करेगा इन आदेशों के तहत।
  • Special Duty Allowance के साथ Tough Location Allowances स्वीकार्य नहीं होंगे। हालांकि, कर्मचारियों के पास 6th CPC की पुरानी दरों पर विशेष मुआवजा (दूरस्थ स्थानीयता) भत्ता जारी रखने का विकल्प है, जहां यह स्वीकार्य था, साथ ही मूल वेतन के 10% की संशोधित दर पर विशेष शुल्क भत्ता।
Risk and Hardship Matrix

Areas eligible for grant of Special Compensatory (Remote Locality)

Allowance subsumed in Tough Location Allowance – I

Advertisement

कठिन स्थान भत्ता(Tough Location Allowance)

भाग-A में शामिल क्षेत्र

क्र.सं राज्यों का नाम छादित क्षेत्रों
1. अंडमान और निकोबार आइसलैंड मध्य अंडमान, उत्तर अंडमान, लिटिल अंडमान, निकोबार और नारकोंडम द्वीप।
2. अरुणाचल प्रदेश अरुणाचल प्रदेश के कठिन क्षेत्र
3. हिमाचल प्रदेश 1. चंबा जिला
(a) पांगी तहसील
(b) भरमौर तहसील के पंचायत और गाँव:
(i) पंचायतों :Badgaun, बाजोल, देओल कुगती, नयागाम और टुंडा
(ii) गांवों : ग्राम पंचायत जगत का घाटू, ग्राम पंचायत का कनारसी। Chauhata।
(2) किन्नौर जिला
(a) असरंग, छितकुल और हैंगो कुनो / चरंग पंचायतें।
(b) 15/20 क्षेत्र में छोटा खंबा की ग्राम पंचायतें शामिल हैं। नाथपा और रुपी।
(c) उपरोक्त निर्दिष्ट पंचायत क्षेत्रों को छोड़कर, पूह उप-मंडल।
(3) कुल्लू जिला
15/20 निर्मण्ड तहसील का क्षेत्र, जिसमें खरगा, कुशवार और सरगा ग्राम पंचायत शामिल हैं।
4) लाहौल और स्पीति का लाहौल और स्पीति जिला पूरा क्षेत्र
5) शिमला जिला
रामपुर तहसील के 15/20 क्षेत्र में कूट, लबानासादाना, सरपारा और चंडी-ब्रांदा की पंचायतें शामिल हैं।
4. जम्मू और कश्मीर 1. कठुआ जिला
नबात बान ’, लोहि, मल्हार और मछोड़ि।
2. उधमपुर जिला
(a) दूदू बसंतगढ़, लैंडर भामग मागा, ठकरकोट और नागोटे।
(b) माहौर तहसील के सभी क्षेत्र जो भाग ’13’ में शामिल हैं, उस के अलावा
3. दादा जिला
पद्दर और कश्मीर तहसील में नियाबत नगम का मैकियास।
4. लेह जिला
(a) नोयामा और नोब्रे .
(b) जांस्कर
(c) जिले के अन्य सभी स्थान .
5 बारामूला जिला
संपूर्ण गुरेज़-नीराबत, तंगदर सब-डिवीजन और केरन नाडा
5. लक्षद्वीप संपूर्ण केंद्र शासित प्रदेश।
6. मिजोरम चिम्पुटिपुई जिला और लुंगलेई जिले में लुंगलेई टाउन से 25 किमी से अधिक क्षेत्र।
7. सिक्किम संपूर्ण राज्य।
8. उत्तराखंड चमोली, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग और चंपावत जिलों के अंतर्गत क्षेत्र।

(यह भी पढ़ें: Central Government Health Scheme(CGHS)/केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना)

भाग-B में शामिल क्षेत्र

S.No.Name of the StatesAreas covered
1. अंडमान व नोकोबार द्वीप समूह दक्षिण अंडमान (पोर्ट ब्लेयर सहित)
2. अरुणाचल प्रदेश पूरे अरुणाचल प्रदेश के अलावा अन्य कठिन क्षेत्रों के रूप में घोषित किए गए हैं।
3. हिमाचल प्रदेश 1. चंबा जिला
भरमौर तहसील, भाग। ए ’में शामिल पंचायतों और गांवों को छोड़कर।
2. कांगड़ा जिला बार बाला भंगाल और छोटा भंगाल।
3. किन्नौर जिला पूरा जिला भाग `ए ‘में शामिल क्षेत्रों के अलावा ’
4.  शिमला जिला
(a) डोडरा.कावर तहसील।
(b) रामपुर, कशपथ तहसील और मुनीश में अंधेरे की ग्राम पंचायतें।
(c) परगना सराहन की घोरी चबीस।
4. जम्मू और कश्मीर 1. उधमपुर जिला
तहसील माहोरे में कैसी की ओर से गोयल तक के क्षेत्र और अरसी से केसी तक के क्षेत्र
2. बारामूला जिला
माचिल
5. मिजोरम लुंगलेई टाउन से 25 किमी से अधिक क्षेत्रों को छोड़कर संपूर्ण लुंगलेईजिला
6. नागालैंड संपूर्ण राज्य।
7. त्रिपुरा त्रिपुरा के कठिन क्षेत्र।

भाग-C में शामिल क्षेत्र

4. हिमाचल प्रदेश 1. चंबा जिला
(a) भरतियाट तहसील में Jhandru पंचायत।
(b) चुराह तहसील
(c) लहौज़ी टाउन (बनीखेत सहित)
2. कुल्लू जिला
(a) आउटर सेराज (जकात-खाना के गांवों को छोड़कर और निर्मंड तहसील में बूर)।
(b) संपूर्ण जिला (बाहरी सेराज क्षेत्र और पंडरबियों के परगना को छोड़कर लेकिन तहसील निर्मंद के गांव जकात-खाना और बुरो सहित)
3. मंडी जिला
(a) चुहार घाटी (जोगिन्दरनगर तहसील)।
(b) थुनाग तहसील में निम्नलिखित पंचायतें:
बागरा, छत्री, छोटधर, गरुगशीन, गट्टू, घ्रिआस, जंजीहली, जरियार, जौहर कलहानी कलावन, खोनालाल, लोथ, सिलिबगी, समधन, थचधर, तची और थाना। .
(c) धर्मपुर ब्लॉक की पंचायतें:
बंगला, कमलाह, सकलना, तान्यार और तारखोलह।
(d) करसोग तहसील की पंचायतें:    बलिधर, बागरा, गोपालपुर, खजोल, महोग, मेहुदी, मंज, पाखी, सैंज, सराहन और तेबन
(e) सुंदरनगर तहसील की पंचायतें:
बोही, बटवारा, धनयारा, पौरा-कोठी, सेरी और शोजा।
4. Kangra जिला
(I) धर्मशाला town और इसकी नगर निगम सीमा के बाहर स्थित निम्नलिखित कार्यालय हैं, लेकिन विशेष मुआवजा [दूरस्थ इलाके] के लिए पात्रता के प्रयोजनों के लिए धर्मशाला town में शामिल हैं।
Allowance:
(a) Women’s ITI, Dad.
(b) Mechanical Workshop, Ramnagar.
(c) Child Welfare and Town and Country Planning Offices, Sakoh.
(d) CRSF Office at lower Sakoh.
(e) Kangra Milk Supply Scheme, Dugiar.
(f) H.R.T.C. Workshop, Sudher.
(g) Zonal Malaria Office, Dad.
(h) Forest Corporation Office, Shamnagar.
(I) Tea Factory, Dad.
(j) I.P.H. Sub-Division, Dad.
(k) Settlement Office, Shamnagar,
(I) Binwa Project, Shamnagar.
(II) Palampur Town, including HPKVV Campus at Palampur and the following offices located outside its Municipal limits but included in Palampur Town for this purpose:
(a) H.P. कृषि विश्वविद्यालय campus.
(b) Cattle Development Office/Jersey Farm, Banuri.
(c) Sericulture Office/Indo-German Agriculture Workshop/HPPWD Division, Bundla.
(d) Electrical Sub-Division, Lohna.
(e) D.P.O. Corporation, Bundla,
(f) Electrical HPSE Division, Ghuggar.
5. शिमला जिला
(I) (a) चोपाल तहसील।
(b) घोरी, पंजगांव, पटनसु, नौबिस और परगना सराहन की किशोर कोटि।
(ii) मृत्यु ‘ग्राम पंचायत तकईश क्षेत्र की
(iii) परगना बरबिस।
(iv) रामपुर तहसील के परगना रामपुर का कस्बा रामपुर और घोड़ी नग।
(II) शिमला टाउन और उसके उपनगर (धल्ली, जटोग, कसुम्पटी, मशोबरा, तारादेवी और टूटू)
6. सिरमौर जिला
a) निम्नलिखित पंचायतें:
(I) बानी, बखाली (पछाद तहसील)
(ii) भारोग, भनेरी (पांवटा तहसील)
(iii) बिड़ला (नाहन तहसील)
(iv) दिब्बर (पछाड़ तहसील )
(v) थाना कसोगा (नाहन तहसील)
(b) थानसगिरी ट्रैक्ट
सोलन जिला
मंगल पंचायत
2. जम्मू और कश्मीर (a) पुंछ और राजौरी जिलों के क्षेत्र पुंछ और राजौरी और सुंदरबनी और दो शहरी जिलों के शहरी क्षेत्रों को छोड़कर।
(b) क्षेत्रों जो भाग A & B में शामिल नहीं हैं, लेकिन जो वास्तविक नियंत्रण रेखा से 8 किमी की दूरी पर या ऐसे स्थानों पर हैं जो राज्य सरकार द्वारा अपने स्वयं के कर्मचारियों के लिए समय-समय पर सीमा भत्ते के लिए अर्हक घोषित किए जा सकते हैं।
3. मणिपुर संपूर्ण राज्य।
4. मिजोरम संपूर्ण आइजोल जिला।
5. त्रिपुरा संपूर्ण राज्य (भाग बी कठिन क्षेत्रों के रूप में घोषित क्षेत्रों के अलावा)

Tough Location Allowance

Leave a Comment